Advertisements

अर्ली लिट्रेसी

अर्ली लिट्रेसी को प्रारंभिक साक्षरता भी कहते हैं। इसके अनुसार पढ़ना एक बुनियादी कौशल है। इस कौशल पर बच्चों का शेष विकास निर्भर है। इसलिए शुरुआती सालों में बच्चे का पढ़ना-लिखना सीखना बहुत मायने रखता है।

उन्नाव: शिक्षकों के बीच आपसी सहयोग और नवाचारों की शेयरिंग जरूरी – टीके शिबू 

September 25, 2017 // 0 Comments

उन्नाव के शिक्षकों को परिषदीय विद्यालयों में अच्छा काम करने के लिए रोहैम्पटन यूनिवर्सिटी लंदन का प्रमाण पत्र मिला। [...]