Trending

उम्मीद की पाठशाला किताब

‘बच्चों ने एक-दूसरे को उनके बिगड़े नामों से बुलाना छोड़ दिया’ – शिरीष खरे

स्कूलों में कई बार कुछ बच्चे एक-दूसरे को उनके असली नामों से शिरीष खरे लिखते हैं, "बुलाने की बजाय बिगड़े नामों से बुलाते हैं. कई बार कुछ बच्चे दूसरे बच्चों को गलत नामों से चिढ़ाते भी हैं." [...]

June 1, 2020