Advertisements
News Ticker

दुनियाभर में ‘स्कूल से बाहर’ बच्चों की कुल संख्या, किस देश की आबादी से भी ज्यादा है ? पढ़िए इस पोस्ट में।

out of school children in world

इस सिलसिले में एक ट्वीट के माध्यम से जानकारी साझा की गई, इस आँकड़े का जिक्र लंदन के एजुकेशन फोरम में भी हुआ।

साल 2018 के ‘एजुकेशन वर्ल्ड फोरम’ लंदन में यह आँकड़ा साझा किया गया है कि अगर स्कूल से बाहर बच्चों की कुल संख्या को जोड़ा जाये तो यह आबादी के लिहाज से दुनिया के चौथे सबसे बड़े देश इंडोनेशिया से भी अधिक है।

कितने बच्चे स्कूली शिक्षा से वंचित हैं?

विश्व बैंक के एक रिपोर्ट के अनुसार इंडोनेशिया की कुल आबादी तकरीबन  26.10 करोड़ है, जबकि स्कूल से बाहर दुनियाभर के बच्चों की कुल संख्या 26.40 करोड़ के लगभग है। यानि दुनिया के चौथे सबसे देश के लगभग।  यह आँकड़े वाकई चिंताजनक है।

सबसे ज्यादा चिंता की बात है कि इन बच्चों में एक बड़ी संख्या भारत के बच्चों की भी है। इस बच्चों की संख्या में कमी के लिए निरंतर प्रयास करने और होने वाले प्रयासों की निगरानी करने की जरूरत है।

भारत में लगभग 8 करोड़ बच्चे स्कूल नहीं जाते

wp-image-280223713

इस ग्राफ़ में चीन, भारत और संयुक्त राज्य अमरीका के बाद चौथे स्थान पर स्कूल से बाहर बच्चों की कुल संख्या को गुलाबी रंग से दर्शाया गया है। इस तरह के प्रस्तुतिकरण से वैश्विक स्तर पर स्थिति की गंभीरता सामने आती है।

हालांकि नामांकन के क्षेत्र में हासिल होने वाली उपलब्धि ने इस आँकड़े को कुछ कम जरूर किया है, लेकिन अभी भी जो बच्चे स्कूल आ रहे हैं, उनको गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराने की चुनौती ज्यों की त्यों बनी हुई है। इस सवाल का जवाब लगातार खोजने का प्रयास जारी रहना चाहिए। साल 2011 की जनगणना के आँकड़ों के मुताबिक़ भारत में ऐसे बच्चों की संख्या 78 लाख है जो स्कूल तो जाते हैं मगर उनको परिवार की तरफ से काम करने के लिए मजबूर किया जाता है। जबकि 8.4 करोड़ बच्चे स्कूल ही नहीं जाते।

Advertisements

Leave a Reply