Trending

कविता लेखन कार्यशाला: पढ़िए बच्चों की लिखी मौलिक कविताएं

प्राथमिक विद्यालय राजापुर बख्शी का तालाब (बीकेटी), लखनऊ के बच्चों ने कविता लेखन कार्यशाला में हिस्सा लिया। इसका नेतृत्व प्रधानाध्यापिका नंदिनी राठौर ने किया।

कविता लेखन में बच्चों की भागीदारी

उन्होंने बच्चों को अपने भावों को कविता के रूप में लिखने के लिए प्रोत्साहित किया।

बच्चों ने क्या लिखा?

बच्चों की लिखी कविताओं को ऊपर की तस्वीर में पढ़ा जा सकता है। इस तरह का अवसर बच्चों को समझ के साथ लिखने का कौशल विकसित करने में मदद करता है।वे लिखित सामग्री के पीछे सृजन के रूप में लेखक और कवि की भूमिका को समझ पाते हैं।

बच्चों को अच्छी कविताओं को सुनने का अवसर देना भी बेहद उपयोगी है। इस दिशा में होने वाला प्रयास अत्यंत सराहनीय है।

Advertisements

2 Comments on कविता लेखन कार्यशाला: पढ़िए बच्चों की लिखी मौलिक कविताएं

  1. बहुत ही मज़ेदार कविताएँ लिखी हैं बच्‍चों ने। मैं चकमक बाल पत्रिका से जुड़ी हूँ। स्‍कूल की अनुमति से इन कविताओं को चकमक में प्रकाशन हेतु भेजना चाहती हूँ। क्‍या मुझे स्‍कूल का कोई सम्‍पर्क सूत्र मिल सकता है?

  2. GREAT JOB

इस लेख के बारे में अपनी टिप्पणी लिखें

%d bloggers like this: