Trending

नवाचार: बच्चे जब शब्दों का तोड़-तोड़ कर पढ़ रहे हों, तो धाराप्रवाह पठन के लिए क्या करें?

समस्या:

बच्चे शब्द को शब्द की तरह नहीं पढ़ रहे थे। वे शब्द को तोड़-तोड़ कर पढ़ रहे थे। इससे वे हिंदी भाषा की सामग्री को प्रवाह के साथ पढ़ने में चुनौती का सामना करना पड़ रहा था।

नवाचारः

बच्चों में शब्द को तोड़-तोड़ कर पढ़ने की आदत को बदलने के लिए अक्षरों को मिलाकर शब्द बनाने की गतिविधि करवाई गई। इसमें बनने वाले शब्द को शब्द की तरह पढ़ने का अभ्यास करवाया गया, इसके लिए स्केप-फोल्डिंग वाला तरीका अपनाया गया बच्चों को मौखिक रूप से अक्षरों को जोड़कर शब्द बनाने का अभ्यास कराया गया। ताकि उनको पढ़ने की प्रक्रिया के अभ्यास का मौका मिले। (क + र = कर)

यह नवाचार रोचक क्यों है?

इसे कम संसाधन में ब्लैक बोर्ड पर किया जा सकता है। इसमें बच्चों को प्रत्यक्ष रूप से अभ्यास करने का पर्याप्त मौका मिलता है। बच्चे इस तरह के सीखने में स्केप-फोल्डिंग वाले तरीके के कारण सक्रिय भागीदारी करते हैं। इसे शब्द को शब्द की तरह पढ़ने में आसान होती है और बच्चों के पठन कौशल में तेज़ी से सुधार होता है।

नवाचार का प्रभाव:

बच्चों ने शब्द को शब्द की तरह पढना सीखा और इसके अभ्यास से पठन कौशल में सुधार किया। इससे पढ़ने में उनकी रुचि और आत्मविश्वास पढ़ा। एक-दूसरे से सीखने और सहयोग करने की आदत का विकास बच्चों में स्वाभाविक रूप से हुआ।

Advertisements

4 Comments on नवाचार: बच्चे जब शब्दों का तोड़-तोड़ कर पढ़ रहे हों, तो धाराप्रवाह पठन के लिए क्या करें?

  1. Anonymous // June 19, 2018 at 5:29 pm //

    स्केप-फोल्डिंग KYA HAI

  2. AMIT KUMAR // May 16, 2018 at 4:53 am //

    अति सुन्दर

  3. bahut badhiya Virjesh

%d bloggers like this: