Advertisements
News Ticker

पाठ्यपुस्तकें

शिक्षा में पाठ्यचर्या का मूर्त रूप पाठ्यक्रम में दिखाई देता है। कोई भी पाठ्यपुस्तक पाठ्यक्रम के आधार पर लिखी जाती है। राज्य सरकारों में बदलाव के साथ पाठ्यपुस्तकों में भी बदलाव की प्रवृत्ति भारत में दिखाई देती है।

किताबों को हासिये पर ढकेलती पासबुक

अगर बच्चे छोटी उम्र से सवालों का जवाब खोजने के लिए किताब की बजाय पासबुक का सहारा लेने लग जाते हैं तो यह उनके पठन कौशल के विकास को प्रभावित करता है। इसके कारण बच्चे किसी पैराग्राफ़ को ज्यों का त्यों उतार तो देते हैं। मगर उसे पढ़कर समझना और उससे संबंधित सवालों का जवाब देना उनके लिए बेहद मुश्किल होता है। Read More