Trending

जौनपुरः सरकारी स्कूल में 200 बच्चों के नामांकन के बाद ‘अच्छी पढ़ाई’ है फोकस

jaunpur-school-4

सरकारी विद्यालयों में नामांकन बढ़ रहा है। इसका श्रेय शिक्षकों के सतत प्रयास को जाता है।

जौनपुर ज़िले के शाहगंज विधानसभा क्षेत्र में स्थित प्राथमिक विद्यालय सरायख्वाजा में नए सत्र में 210 बच्चों का नामांकन हो गया है। इस उपलब्धि का श्रेय प्रधानाध्यापक डॉ. अरविन्द प्रकाश सिंह पूरे विद्यालय परिवार के एक टीम की तरह काम करने और साझा प्रयासों को देते हैं।  

jaunpur-school-31.jpg

विद्यालय परिवार के साथ बच्चों को किताब वितरण करते हुए डॉ. अरविंद प्रकाश। इस सत्र में सभी बच्चों को समय से पाठ्यपुस्तक मिल गई है।

वे कहते हैं, “हमारा स्कूल एक मुसहर बस्ती में स्थित है। यहां की अधिकांश आबादी पढ़ाई-लिखाई से वंचित है। यहां स्कूल आने वाले ज्यादातर पहली पीढ़ी के बच्चे हैं जो स्कूल आ रहे हैं। दिसंबर 2016 से ही हमने नए सत्र के लिए प्लान बनाया और अभिभावकों को सरकारी स्कूल में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जागरूक किया।”

बच्चों में सीखने की विशेष ‘लगन’ है

डॉ. अरविंद प्रकाश सिंह कहते हैं कि नामांकन के बाद अब बच्चों का ठहराव और अच्छी पढ़ाई दो प्राथमिकताएं हैं।सरकारी स्कूल में पढ़ाई, सरकारी स्कूल में शिक्षा, शिक्षा की गुणवत्ता, शिक्षा में बदलाव की कहानियांअपने विद्यालय के बारे में बताते हुए वे कहते हैं, “हम कालांश के हिसाब से बच्चों को हर विषय के अध्ययन का अवसर दे रहे हैं। हमारी कोशिश है कि जिन बच्चों का विद्यालय में नामांकन है, वे नियमित स्कूल आएं और उनको अच्छी शिक्षा मिल सके।”

school-function.jpgइसी सत्र में मुसहर बस्ती  से नामांकित 10 बच्चों का उदाहरण सामने रखते हुए उन्होंने बताया, “सभी 10 बच्चे नियमित विद्यालय आते हैं। यहां तक कि बरसात वाले दिन भी वे विद्यालय जरूर आते हैं। विद्यालय के अन्य बच्चों की तुलना में ये बच्चे तेज़ी से सीख रहे हैं। इनमें पढ़ाई को लेकर एक विशेष लगन है। हम चाहते हैं कि पढ़ाई के प्रति यही चाव हर बच्चे में पैदा किया जाये। ताकि वे एक-दूसरे से सीखकर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित हों।”

Advertisements

2 Comments on जौनपुरः सरकारी स्कूल में 200 बच्चों के नामांकन के बाद ‘अच्छी पढ़ाई’ है फोकस

  1. शुक्रिया रजनी जी।

  2. बहुत ही अच्छा पोस्ट है आपका।

%d bloggers like this: