Covid-19 Education Update

‘कोविड-19: सीखने के अवसरों में अंतर को समझने वाले अभिभावक स्कूल खोलने के पक्ष में’

कोविड-19 के दौर में स्कूली शिक्षा की वर्तमान स्थिति पर बेहद संक्षिप्त, सटीक और संजीदा टिप्पणी शिक्षक केवल आनंद काण्डपाल जी ने लिखी है। जरूर पढ़ें, शेयर करें और टिप्पणी लिखने में संकोच न करें। [...]

विश्लेषणः कोविड-19 के कारण शिक्षा पर क्या असर पड़ा?

राजेश ठाकुर कहते हैं, "आज शिक्षा को वास्तविक जरूरतों के साथ जोड़ने की , प्रायोगिक शिक्षा की जिससे शिक्षा पाकर लोग अपने ज्ञान का उपयोग धन कमाने के लिए ही नहीं अपितु समाजिक उत्तरदायित्व निर्वहन के लिए कर सकें." [...]

पुस्तकालय अभियानः ‘बंद स्कूलों के दौर में, खुली किताबों से है उम्मीद’

बंद स्कूलों के दौर में कहानी की किताबों के जादू से बच्चों को परिचित होने का मौका देना उनको रोज़मर्रा के तनाव से मुक्त करेगा। इसके साथ ही साथ उनको फिर से पढ़ने के लिए प्रोत्साहन भी देगा। [...]

बच्चे याद दिलाते हैं कि ‘आज मम्मी-पापा की भी ऑनलाइन क्लास है’

एजुकेशन मिरर के लिए यह लेख प्रिया जायसवाल ने लिखा है। उन्होंने इस लेख में कोविड-19 के दौरान हो रहे अनुभवों को सहजता से व्यक्त किया है। इसमें वर्तमान की चिंताओं की झलक है तो भविष्य की उम्मीद भी है। [...]

रियल लाइफ़ स्टोरीः एक शिक्षिका ने परिवार में हुए कोरोना संक्रमण को मात देने के लिए क्या किया?

इस रियल लाइफ़ स्टोरी में नीता बत्रा बताती हैं कि कैसे एक दिन उनकी ज़िंदगी पूरी तरह से बदल गई और लॉकडाउन के दौरान जिन शैक्षिक चीज़ों को वे सीख रही थीं, वे उनके किसी काम की नहीं थी। [...]

शिक्षा विमर्श: कोविड-19 के इस दौर में ऑनलाइन शिक्षण से जुड़े सवाल क्या हैं?

हेमन्त कुमार झा लिखते हैं, "ऑनलाइन प्रणाली ने शैक्षणिक संपर्कों को असीमित विस्तार दिया और यह इसकी सबसे महत्वपूर्ण देन है।" [...]

उत्तराखंड: लॉकडाउन में हिमोत्थान एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स इनिशिएटिव से शिक्षा को मिली निरंतरता

टिहरी गढ़वाल से सुषमा चौहान ने बताया कि लॉक डाउन में हमें भी चिंता थी कि बच्चों की पढ़ाई कैसे होगी। लेकिन हिमोत्थान सोसाइटी ने ऑनलाइन शिक्षा कार्यक्रम चलाकर बच्चों के पढ़ाई की मुश्किल को आसान कर दिया है। [...]

भारतः ‘बच्चों की शिक्षा से पहले स्वास्थ्य की चिंता जरूरी, हड़बड़ी में न खुलें स्कूल’

स्वास्थ या शिक्षा- प्राथमिकता क्या हो? जानिए वे बड़े सवाल जिनके उत्तर सरकार, शिक्षक, अभिभावक और बच्चे खोज रहे हैं? [...]